Aarti

अन्नपूर्णा आरती हिन्दी में (Annapurna Aarti in Hindi PDF)

अन्नपूर्णा आरती (Annapurna Aarti) बारम्बार प्रणाम, मैया बारम्बार प्रणाम । जो नहीं ध्यावे तुम्हें अम्बिके, कहां उसे विश्राम । अन्नपूर्णा देवी नाम तिहारो, लेत होत सब काम ॥ बारम्बार प्रणाम, मैया बारम्बार प्रणाम । प्रलय युगान्तर और जन्मान्तर, कालान्तर तक नाम । सुर सुरों की रचना करती, कहाँ कृष्ण कहाँ राम ॥ बारम्बार प्रणाम, मैया …

अन्नपूर्णा आरती हिन्दी में (Annapurna Aarti in Hindi PDF) Read More »

खाटू श्याम आरती हिन्दी में (Khatu Shyam Aarti in Hindi PDF)

खाटू श्याम आरती (Khatu Shyam Aarti) ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे। खाटू धाम विराजत, अनुपम रूप धरे॥ ॐ जय श्री श्याम हरे…॥ रतन जड़ित सिंहासन, सिर पर चंवर ढुरे । तन केसरिया बागो, कुण्डल श्रवण पड़े ॥ ॐ जय श्री श्याम हरे…॥ गल पुष्पों की माला, सिर पार मुकुट धरे …

खाटू श्याम आरती हिन्दी में (Khatu Shyam Aarti in Hindi PDF) Read More »

आरती कुंजबिहारी की (Aarti Kunj Bihari Ki in Hindi PDF)

आरती कुंजबिहारी की (Aarti Kunj Bihari Ki) आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की ॥ आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्ण मुरारी की ॥ गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला । श्रवण में कुण्डल झलकाला, नंद के आनंद नंदलाला । गगन सम अंग कांति काली, राधिका चमक रही आली । लतन में …

आरती कुंजबिहारी की (Aarti Kunj Bihari Ki in Hindi PDF) Read More »

आरती श्री गणेश जी की (Shri Ganesh Aarti in Hindi PDF)

आरती श्री गणेश जी की (Shri Ganesh Aarti in Hindi PDF) गणेश उत्सव मे सर्वमान्य श्री गणेश आरती का अपना अलग ही महत्व है: जय गणेश जय गणेश, जय गणेश देवा । माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥ एक दंत दयावंत, चार भुजा धारी । माथे सिंदूर सोहे, मूसे की सवारी ॥ जय गणेश जय …

आरती श्री गणेश जी की (Shri Ganesh Aarti in Hindi PDF) Read More »

शिव आरती: ॐ जय शिव ओंकारा (Shiv Aarti – Om Jai Shiv Omkara in Hindi)

शिव आरती: ॐ जय शिव ओंकारा (Shiv Aarti – Om Jai Shiv Omkara) ॐ जय शिव ओंकारा, स्वामी जय शिव ओंकारा। ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव, अर्द्धांगी धारा ॥ ॐ जय शिव ओंकारा…॥ एकानन चतुरानन पंचानन राजे । हंसासन गरूड़ासन वृषवाहन साजे ॥ ॐ जय शिव ओंकारा…॥ दो भुज चार चतुर्भुज दसभुज अति सोहे । त्रिगुण रूप …

शिव आरती: ॐ जय शिव ओंकारा (Shiv Aarti – Om Jai Shiv Omkara in Hindi) Read More »

आरती: सन्तोषी माता की (Santoshi Mata Aarti in Hindi)

आरती: सन्तोषी माता की (Santoshi Mata Aarti in Hindi) जय सन्तोषी माता, मैया जय सन्तोषी माता । अपने सेवक जन की, सुख सम्पति दाता ॥ जय सन्तोषी माता, मैया जय सन्तोषी माता ॥ सुन्दर चीर सुनहरी, मां धारण कीन्हो । हीरा पन्ना दमके, तन श्रृंगार लीन्हो ॥ जय सन्तोषी माता, मैया जय सन्तोषी माता ॥ …

आरती: सन्तोषी माता की (Santoshi Mata Aarti in Hindi) Read More »

आरती: हनुमान आरती हिंदी में (Hanuman Aarti in Hindi)

श्री हनुमान जन्मोत्सव, मंगलवार व्रत, शनिवार पूजा, बूढ़े मंगलवार और अखंड रामायण के पाठ में प्रमुखता से गाये जाने वाली श्री हनुमान आरती है। ॥ श्री हनुमंत स्तुति ॥ मनोजवं मारुत तुल्यवेगं, जितेन्द्रियं, बुद्धिमतां वरिष्ठम् ॥ वातात्मजं वानरयुथ मुख्यं, श्रीरामदुतं शरणम प्रपद्धे ॥ ॥ आरती ॥ आरती कीजै हनुमान लला की । दुष्ट दलन रघुनाथ …

आरती: हनुमान आरती हिंदी में (Hanuman Aarti in Hindi) Read More »